निरंतर खबरे :

पूर्व न्याय मंत्री व विधायक ने छात्राओं को किया सम्मानित| प्राथमिक विद्यालय अस्ती के बच्चों ने किया जागरूक| वीरागंना झलकारी बाई की मनाई 190वीं जयंती | सपा संरक्षक मुलायम सिंह का मनाया जन्मदिन, काटा केक| छोटे किसानों का धान केंद्र में नहीं खरीदा जा रहाः रामदत्त मिश्रा| आवारा पशुओं द्वारा फसलों का नुकसान किए जाने पर चर्चा | शाहाबाद ब्लाक प्रमुख के जेठ नलिन गुप्ता की कार टैक्ट्रर ट्राली में जा घुसी,बाल बाल बचे| मुलायम के जन्मदिन पर 2022 में सपा की सरकार बनाने का लिया संकल्प| राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने मिशन शक्ति अभियान के तहत मनाया रानी लक्ष्मी बाई का जन्म दिवस।| शाहबाद लेखपाल संघ का चुनाव निर्विरोध संपन्न, नरेन्द्र बने पुनःअध्यक्ष| बीआरसी पर रानी लक्ष्मी बाई को दीप प्रज्वलित कर याद किया गया| ग्राम पंचायत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए आजिविका मिशन की हुई बैठक| शाहाबाद कोतवाली में तैनात कांस्टेबल अमित कुमार, राहुल कुमार को एसपी अनुराग वत्स ने किया सम्मानित| महिला सुरक्षा और यातायात नियमों के प्रति किया जागरूक| छात्राओं को बताये सुरक्षा के गुर| सपा नौजवान सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का राष्ट्रीय सचिव ने किया स्वागत| वृद्ध जरूरतमंद विकलांगो को भोजन लईया गट्टा पट्टी मोमबत्ती मिठाई का वितरण | भ्रष्टाचार के विरुद्ध गुलाबी गैंग लोकतान्त्रिक नें किया प्रदर्शन| मीना मंच सुगमकर्ता कार्य योजना की बैठक| प्रशासन और संभ्रांत जनों के बीच संवाद जरूरी |

गुड़गांव में होते हैं सबसे ज्यादा रेप, दूसरे स्थान पर फरीदाबाद



चंडीगढ़ । हरियाणा के गुड़गांव में महिलाओं की सुरक्षा का आलम यह है कि यहां करीब पिछले पांच साल में बलात्कार के सबसे अधिक 663 मामले दर्ज किए गए हैं। जबकि, हत्या की 470 वारदातें यहां हुई। राज्य विधानसभा में कांग्रेस सदस्य करण सिंह दलाल के सवाल के लिखित जवाब में यह जानकारी दी गई। हरियाणा के सभी जिलों में अपराध के मामले में गुड़गांव के बाद दूसरे नंबर पर फरीदाबाद रहा है, जहां बलात्कार के 543 और हत्या के 337 मामले दर्ज किए गए। सोनीपत में बलात्कार और हत्या की क्रमश: 229 और 448 घटनाएं हुईं हैं।
फरीदाबाद और गुड़गांव में बाल बलात्कार के मामले भी सबसे अधिक पाए गए। यहां पिछले पांच साल में पॉक्सो अधिनियम के तहत क्रमश: 412 और 354 मामले दर्ज किए गए। दोनों जिले महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों में सबसे ऊपर रहे, जहां गुड़गांव में 4,577, फरीदाबाद में 4,315 मामले दर्ज किए गए। इनके बाद तीसरे नंबर पर रहा पानीपत जहां 3,595 मामले सामने आए। पलवल के विधायक दलाल ने प्रत्येक जिलों में नवम्बर 2014 से अभी तक दर्ज हत्या, बलात्कार, बाल बलात्कार और महिला विरोधी अपराध के मामलों के आंकड़े मांगे थे। 
उन्होंने इन मामलों में दोषी को सजा दी गई या नहीं इसकी भी जानकारी मांगी थी। सदन को बताया गया कि नवम्बर 2014 से अभी तक हत्या के 5043, बलात्कार के 4847, पॉक्सो अधिनियम के तहत 3674 और अजा, अजजा (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत 3695 मामले दर्ज किए गए। सदन को बताया गया कि (नवम्बर 2014 से) 20 जुलाई तक 953 को हत्या, 249 को बलात्कार, 457 को बाल बलात्कार और 904 को अन्य मामलों में दोषी ठहराया गया।

Comments