निरंतर खबरे :

पूर्व न्याय मंत्री व विधायक ने छात्राओं को किया सम्मानित| प्राथमिक विद्यालय अस्ती के बच्चों ने किया जागरूक| वीरागंना झलकारी बाई की मनाई 190वीं जयंती | सपा संरक्षक मुलायम सिंह का मनाया जन्मदिन, काटा केक| छोटे किसानों का धान केंद्र में नहीं खरीदा जा रहाः रामदत्त मिश्रा| आवारा पशुओं द्वारा फसलों का नुकसान किए जाने पर चर्चा | शाहाबाद ब्लाक प्रमुख के जेठ नलिन गुप्ता की कार टैक्ट्रर ट्राली में जा घुसी,बाल बाल बचे| मुलायम के जन्मदिन पर 2022 में सपा की सरकार बनाने का लिया संकल्प| राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने मिशन शक्ति अभियान के तहत मनाया रानी लक्ष्मी बाई का जन्म दिवस।| शाहबाद लेखपाल संघ का चुनाव निर्विरोध संपन्न, नरेन्द्र बने पुनःअध्यक्ष| बीआरसी पर रानी लक्ष्मी बाई को दीप प्रज्वलित कर याद किया गया| ग्राम पंचायत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए आजिविका मिशन की हुई बैठक| शाहाबाद कोतवाली में तैनात कांस्टेबल अमित कुमार, राहुल कुमार को एसपी अनुराग वत्स ने किया सम्मानित| महिला सुरक्षा और यातायात नियमों के प्रति किया जागरूक| छात्राओं को बताये सुरक्षा के गुर| सपा नौजवान सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का राष्ट्रीय सचिव ने किया स्वागत| वृद्ध जरूरतमंद विकलांगो को भोजन लईया गट्टा पट्टी मोमबत्ती मिठाई का वितरण | भ्रष्टाचार के विरुद्ध गुलाबी गैंग लोकतान्त्रिक नें किया प्रदर्शन| मीना मंच सुगमकर्ता कार्य योजना की बैठक| प्रशासन और संभ्रांत जनों के बीच संवाद जरूरी |

भारत में टिक-टॉक पर बैन के बाद चीनी कंपनी को 45000 cr का नुकसान



नई दिल्ली  - भारत-चीन सैनिकों की हुई झड़प और भारतीय सीमा में घुसने के चीनी सेना के नापाक इरादे अब उल्टा चीन पर ही भारी पड़ते दिखाई दे रहा है। अब चीन के खिलाफ पूरे भारत में आक्रोश है। पूरे देश में चाइनिज प्रॉडक्ट को बैन करने की मांग उठने लगी। इसी बीच भारत सरकार द्वारा 59 चाइनीज ऍप को बंद भी कर दिया गया। भारत सरकार के फैसले से चीनी कंपनियों का भारी नुकसान होना तय लग रहा है। इसकी शरुआत टिकटॉक से हो चुकी है। दरअसल टिकटॉक बैन किए जाने के बाद इसकी मदर कंपनी बाइटडांस को करोड़ों रुपये का नुकसान हो रहा है। चाइनीज मीडिया ऑर्गनाइजेशन ग्लोबल टाइम्स की ओर से जारी एक रिपोर्ट में इस सप्ताह बताया गया कि टिकटॉक बैन के बाद बाइटडांस को 45 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का नुकसान हुआ है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि ‘हेलो’ और ‘टिक-टॉक’ जैसे ऐप्स बैन किए जाने का असर बाइटडांस के बिजनस पर पड़ सकता है। बता दें कि चीन के लिए भारत टिकटॉक का सबसे बड़ा बाजार था। भारत सरकार की ओर 59 चाइनीज ऐप्स को बैन करने का फैसला लिया गया। जानकारी के मुताबिक इसका असर चाइनीज ट्रेडर्स और इन्वेस्टर्स पर भी पड़ेगा। वहीं जानकारों का कहना है कि भारत सरकार के इस फैसले के बाद चाइनीज निवेशकों और बिजनसेज को भी भारी झटका लगा है। टिकटॉक भारत के शहरों से लेकर गांव तक में तेजी से पॉप्युलर हो गया था। आंकड़ों की मानें तो लॉन्च होने के बाद भारत में गूगल प्ले स्टोर से टिकटॉक को करीब 66 करोड़ बार डाउनलोड किया गया था। बैन के बाद ऐप को प्ले स्टोर और ऐप स्टोर से हटा दिया गया है और अब ऐक्सेस नहीं किया जा सकता।

Comments